Speech on Dhanteras in Hindi | धनतेरस पर भाषण 2018 | Dhanteras Speech

Short Speech on Dhanteras in Hindi | धनतेरस पर भाषण 2018 | Dhanteras Speech in Hindi

आप सभी को Dhanteras 2018 की हार्दिक शुभकामनाएं, आज हम धनतेरस पर स्पीच भाषण लेकर आए हैं. क्यों मनाया जाता है धनतेरस कब हैं कैसे मनाते है धनत्रयोदशी की कथा पूजा विधि बधाई संदेश शायरी आदि पर पर्याप्त जानकारी आपकों हमारे अन्य लेख में दी जा चुकी हैं. धनतेरस स्पीच इन हिंदी लैंग्वेज (Speech on Dhanteras in Hindi, Dhanteras Speech) में हम इस पर्व के बारे में विस्तार से पढेगे.

Dhanteras Speech

धनतेरस 2018 स्पीच इन हिंदी

धनतेरस क्या है (What is Dhanteras?)– यह एक हिन्दुओं द्वारा मनाया जाने वाला पर्व हैं, जो दिवाली के पांच पर्वों में से सबसे पहला उत्सव हैं. जो कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को आता हैं. इस दिन भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा जगत के स्वामी भगवान धन्वन्तरी जी का जन्म हुआ था, इस कारण इसे धनतेरस कहा जाता हैं.धनतेरस कब है 2018 में (When is Dhanteras in 2018): जैसा कि ऊपर बताया गया है यह कार्तिक माह की कृष्ण त्रयोदशी तिथि को मनाया जाता हैं. इस वर्ष 2018 में जो 5 नवम्बर सोमवार के दिन हैं. मलमास होने के कारण इस साल एक महीने की देरी से धनतेरस का पर्व मनाया जा रहा हैं, वैसे यह अक्टूबर माह में आ जाता है. मगर इस वर्ष नवम्बर के प्रथम सप्ताह में धनत्रयोदशी का उत्सव हम मनाने जा रहे हैं.हम धनतेरस क्यों मनाते है (why do we celebrate dhanteras in hindi); भगवान धन्वन्तरि के बारे में आपकों उपर संक्षिप्त जानकारी दी थी. धनतेरस की कथा में ऐसा कहा गया हैं कि देवताओं पर विपत्ति के समय भगवान धन्वन्तरि ने कार्तिक त्रयोदशी तिथि को ही अवतार लिया था, वे अपने साथ एक कलश लेकर आए थे. उन्होंने कलश में भरे अमृत का देवताओं को पान कराया, वे देवताओं के चिकित्सक थे. कलयुग में अच्छे स्वास्थ्य की कामना के लिए भगवान धन्वन्तरि की पूजा होती हैं. उन्होंने ही भारत में आयुर्वेद को स्थापित किया था, इस कारण हम धनतेरस को राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के रूप में भी मनाते हैं.भगवान धन्वन्तरिधनतेरस की कथा क्या है (The story of Dhanteras in Hindi): आरोग्य के देव धन्वंतरि जी का जन्म दिन होने के कारण इस दिन उनकी पूजा की जाती हैं. धन्वंतरि मंत्रों व भजन के साथ उनको याद किया जाता हैं. इनके साथ ही माता लक्ष्मी का पूजन भी किया जाता हैं. क्योंकि यह दीपावली का पांच दिवसीय त्योहार पूर्ण रूप से उन्हें ही समर्पित हैं.धन्वंतरिधनतेरस को क्या खरीदें (what to buy on dhanteras in hindi): यह दिन खरीददारी के लिए अति शुभ माना गया हैं. इस सम्बन्ध में मान्यता है कि धनतेरस के दिन खरीदी गई वस्तु तेरह गुणा लाभ प्रदान करती हैं. लोगों द्वारा इस दिन विशेष रूप से बर्तन सोने चांदी के आभूषण और वाहनों की खरीद की जाती हैं. बदलते समय के साथ ही अब तो मोबाइल और इलेक्ट्रॉनिक से जुडे सामान भी इस दिन बड़ी मात्रा में खरीदे जाते हैं.what to buy on dhanteras in hindiधनतेरस पर भाषण निबंध (Dhanteras speech & Short Essay In Hindi): त्यौहार एवं पर्व हमारी संस्कृति के महत्वपूर्ण आयाम हैं. लोगों के संस्कारों की झलक इन तरह के उत्सवों पर देखने को मिलती हैं. दूसरी तरफ व्यस्त जीवन के माहौल में तनिक शांति उत्साह तथा लोगों के साथ मिलने जुलने का अवसर इन पर्वों से ही मिलता हैं. धनतेरस का त्योहार बाजार तथा व्यापारियों के लिए गोल्डन दिन होता हैं. हर कोई इस दिन कुछ न कुछ खरीद ही लेता हैं. प्राचीन समय में चांदी तथा सोने के सिक्के एवं बर्तनों की खरीद इस दिन की जाती थी, मगर आज समय के बदलाव के साथ व्यक्ति की जरूरतों में भी परिवर्तन आ गया हैं. हम मोबाइल वाहन इत्यादि की खरीद भी धनतेरस पर करना शुभ मानते हैं.

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *